अंगिका काव्य साहित्य (Angika Literature – Angika Poems)

Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]

पनसोखा, उध्र्वरेता, सती परीक्षा, रूप-रूप प्रतिरूप (सुमन सूरो), पछिया बयार (डा0 परमानन्द पांडेय), किसान क’ जगाबॊ,फूलॊ के गुलदस्ता, ययाति, भोरकॊ लाली (डा0 नरेश पाण्डेय चकोर), करिया झुम्मर खेलै छी, रेत रॊ राग, ऋतुरंग, गेना (डा0 अमरेन्द्र), सवर्णा,माद्री (डा0 तेजनारायण कुशवाहा), महमह फूल (विद्याभूषण सिंह वेणु), धमस (कुन्दन अमिताभ), मन रॊ मनका, सीपी में सागर, कोशी के तीरे-तीरे (चन्द्रप्रकाश जगप्रिय), जाहनवी (कनकलाल चैधरी कणक), उतंग हमरॊ अंग (हीरा प्रसाद हरेन्द्र), कैन्हॊ चाँद केकरॊ चाँद (जीवन लता पूर्वे),गुमार (गुरेश मोहन घोष सरल), गुदगुदी (प्रकाश सेन प्रीतम), जत्ते चलॊ चलैने जा (कैलाश झा किंकर), चढावा, लाठी महात्म्य (अंजनी कुमार शर्मा), इ जिनगी, बिछलॊ गीत (डा0 भूतनाथ तिवारी), कच (अनिल चन्द्र ठाकूर), उषा (सुभाष भ्रमर), मंथरा (जगदीश पाठक मधुकर), घैरको (भुवनेश्वर भुवन), अंग तरंग (परशुराम ठाकुर ब्रहम्वादी), गीत माधुरी, जैबै अंग देश (प्रीतम कुमार दीप), चानन के रेत (आर. प्रवेश) कैटरेंगनी के फूल (विजेता मुदगलपुरी).