अंगिका शब्दकोष (क, ख, ग, घ, ङ) – Angika Language Dictionary

कौरै वाला औजार कोदार खूरपी खंती (sem. domains: 6.7.1.1 – कुरेदने वाले औज़ार.)

कोय चीज कॅ देखै लेली ईस्‍तेमाल होय वाला साधन जेकरो ईस्‍तेमाल कोय चीज कॅ देकै लेली करलो जाय छै चश्‍मा, दुरबीन, शीशा, (sem. domains: 2.3.1.9 – देखने के लिए उपयोग में आने वाली वस्‍तु.)

कोफी कोफीके खेती हमरा गाव मे कोफी के खेती नाय होय छै (sem. domains: 6.2.1.7.2 – कोफी )

कोनो चीजो सॅ रोशनी टकराय कॅ वापस लौटना कोनो चीजो सॅ जैसॅ कि अईना सॅ रोशनी टकराय कॅ वापस लौटना अईना सॅ रोशनी टकराय कॅ हमरो आँखी पर पड़ै छै। (sem. domains: 2.3.1.7 – प्रतिबिंबित करना, दर्पण.)

कचीया n कैंची औजार 

की होळौ – क्या हुआ

कखनी – किस समय

कथी – क्या

कोदार n कुदाल spade

कोठरि पका का घोर (sem. domains: 6.5.2.7 – कमरा.)

केतारी n केतारी रोपना केतारी के खेती करना (sem. domains: 6.2.1.5.1 – गन्‍ना)

कूरसी चार गोड़ आरू पीठीया लागलो वाल लकड़ी के बनलो बैठै के एक साधन घर, स्‍कूल, कॅलेज, ऑफिस मॅ भी बैठैके लेली कुरसी के ईस्‍तेमाल करलो जाय छै (sem. domains: 5.1.1.2 – कुर्सी.)

कूटै वाला औजार समाठ (sem. domains: 6.7.2 – कूटने वाले औज़ार.)

कुय्‍याँ अथवा बोरिंग पानी निकालै या प्राप्त करै के साधन कुय्‍याँ, बोरिंग, नलकूप (sem. domains: 1.3.1.4 – सोता, कुंआ.)

कुटुम्‍ब-जाति सगो- संम्‍बधी/जात-कुटुम्‍ब ई आदमी हमारो जाते- भाय छेकै/ ई आदमी सिनी हमरे सगो- संबंधी छेकै (sem. domains: 4.1.9.8 – कुटुंब, जाति.)

कुटमैती/ मैहमानी आपनो सगो-संम्‍बनंधि कन जाना आय हम्‍मे आपनो समधी कन जैबै (sem. domains: 4.2.1.4.2 – मेहमान नवाजी.)

किरानि कागज के साथ काम करै वाला (sem. domains: 6.1.1 – कर्मचारी Worker, 6.6.3.3 – कागज़ के साथ काम करना Working with paper.)

किनना खरीदना रुपया दे के समान लेना हम्मा कपरा किनै छियै i (sem. domains: 6.8.4.1 – ख़रीदना, ख़रीद.)

कारिगर हड़ी जोड़े वाला (sem. domains: 6.6.4.4 – हड्‍डी के साथ काम करना.)

काम छॉऋना 1काम बॉण कर ना (sem. domains: 6.1.2.4.3 – छोड़ना.) 2राजु ने काम छॉरि देळ्के 3काम बॉण कर ना (sem. domains: 6.1.2.4.3 – छोड़ना.) 4राजु ने काम छॉरि देळ्के

काबील होसियार आदमी बिक्रम बरा होसियार आदमी छै (sem. domains: 6.1.2.8 – दक्ष.)

कादव पानि आरु मति के मिलाना (sem. domains: 6.6.2.4 – कीचड़ के साथ काम करना.)

काटे वाला औजार (sem. domains: 6.7.1 – काटने वाले औज़ार.)

कसै वाला औजार रींच (sem. domains: 6.7.6 – पकड़ने वाले औज़ार.)

कलौव्‍वो पकैलो गेलो खाय-पीयै के चीज जेकरा खाय कॅ आदमी या कोय भी जीव ताकत पावै छै भात, तरकारी, रोटी, सरबत (sem. domains: 5.2 – भोजन.)

कल जेकरा से पानि मिलै छे (sem. domains: 6.6.7.1 – नलसाज़.)

कर्जा कूछ दीनो के लीए देना (sem. domains: 6.8.5.3 – ऋणी होना.)

कमरुआ लकडी के सामान बानावे वाला (sem. domains: 6.6.3.1 – काष्‍टकर्म.)

कम मे लावलिय 1(sem. domains: 6.1.2.2.4 – प्रयोग में लाना.) 2किताब काम मे लाबलिअए 3किताब काम मे लाबलिअए

कम (sem. domains: 6.1.2.2.4 – प्रयोग में लाना.)

कपढीया कपडाड बेचे वाला (sem. domains: 6.6.1 – कपड़े के साथ काम करना.)

कठीन काम आसानी से नाय होय वाला काम नाचना बरा कठीन काम छेकै (sem. domains: 6.1.3 – कठिन, असंभव.)

कंजुस 1जरुरत से कम खरच करै वाला (sem. domains: 6.8.2.4 – मितव्ययी.) 2पैसा बाचावे वाला (sem. domains: 6.8.3.3 – कंजूस.)

कजली, काई, कूम्‍हीं बिना पत्ता के एकदम्‍मे छोटो पौघा जे चटाय के जैसनो पानी जमै के जद्‍धो पर हो छै चापाकल या समुन्‍दर के किनारा पर होय छै (sem. domains: 1.5.4 – काई, फफूंद, शैवाल.)

खूर वाल जानवर के गोड़ n जोन जानवर कॅ टापदार खूर होय छै घोड़ा, बैल, हरीन (sem. domains: 1.6.1.1.3 – खुर वाले जानवर.)

खूबे काम 1दिन रात काम करे वाला मुस्तकिम दिन रात काम करे छै (sem. domains: 6.1.2.3.2 – कड़ी मेहनत करना.) 2दिन रात काम करे वाला मुस्तकिम दिन रात काम करे छै (sem. domains: 6.1.2.3.2 – कड़ी मेहनत करना.)

खुर के चीनह जानवर के पैर के निसान (sem. domains: 6.4.1.1 – जानवर का पदचिन्‍ह.)

खुन n खुन से नस चलै छै हमरा देह में बहुते खुन छै (sem. domains: 2.2.5 – रक्‍त-स्‍त्राव, रक्‍त.)

खिडकि घोर मे हावा जाए वाला रासता (sem. domains: 6.5.2.5 – खिड़की.)

खाही, घाटी n पहाड़ के किनार पर के गड्‍ढा, नदी या खही अथबा घाटी हिमालय के उत्‍तरी किनारा पर बड्‍डी खाई छै (sem. domains: 1.2.1.4 – घाटी.)

खतम – राम खतम होय गेलै (sem. domains: 2.6.6 – Die.)

खान खोदना कोयला के खान (sem. domains: 6.6.2.1 – सुरंग लगाना.)

खान सोना,चाँदी के खान (sem. domains: 6.6.2 – खनिज के साथ काम करना.)

खाता जेकरा मे लेन देन लीखलो जाय छै (sem. domains: 6.8.7 – लेखाँकन.)

खाजाना जमीन का खजाना (sem. domains: 6.8.8 – कर, कर लगाना.)

खर्चा करन जरुरत के काम मे पैसा लगाना खर्चा करना (sem. domains: 6.8.4.3.1 – महँगा.)

खम्हार काटलो फसल जमा राखै वाला जगहो खम्हारी पोर फसल जमा कर (sem. domains: 6.2.6.4 – तैयार फ़सल का रखाव.)

खंदान/कूल, जात-भाय n एक्के आदमी के पीढ़ी के लोग सिनी रामू जादव खनदान के लोग छेकै (sem. domains: 4.1.9.9 – कुल वशं, मानव जाति, व्यक्तियों का समूह.)

खतम होय गेलै (sem. domains: 2.6.6 – Die.)

खतम 1कमलेश्वरी खतम होय गैलै (sem. domains: 6.1.2.3.5 – पूरा, पूरा करना, पूर्ण करना, समाप्त करना, मार डालना, अंत.) 2कमलेश्वरी खतम होय गैलै (sem. domains: 6.1.2.3.5 – पूरा, पूरा करना, पूर्ण करना, समाप्त करना, मार डालना, अंत.)

खेत कमाना v खेतो से घास पतवार निकालना फसल के कमाय साफ करना (sem. domains: 6.2.2.1 – खेत को साफ़ करना.)

खेत बनाना v खेत जोतना खेत जोती के तैयार करना (sem. domains: 6.2.2 – जमीन को तैयार करना.)

खेत बुनना v खेतो मे बिया छिटना चाचा खेतो मे गेहु बुनकै (sem. domains: 6.2.1 – फ़सल उगाना.)

खेतिहर खेत मे काम करै वाला (sem. domains: 6.6.6 – ज़मीन के साथ काम करना.)

खेती खेत के पुरा काम करना हमरो बाबु खेती के काम करै छै (sem. domains: 6.2 – खेती (कृषि).)

खोंखी n एक परकार के बेमारी हमरो दादा के खोंखी के बेमारी छै (sem. domains: 2.2.2 – खांसना, छींकना.)

खोटा खाय वाला जानवर n ऐसनो जानवर जे खोटा खाय कॅ जींदा रहै छै गिरगीट (sem. domains: 1.6.1.1.6 – वम्राद, चींटा.)

खोदै वाला औजार खंती (sem. domains: 6.7.1.2 – खोदने वाले औज़ार.)

गरिब सब चिज के आभाव (sem. domains: 6.8.1.3 – दीन, दरिद्र, अल्प, खराब, अभागा, बेचारा.)

गलत बुझलै v वँ हर घड़ी उलटे सोचैछै लालु हर घड़ी उलटे सोचैछै (sem. domains: 3.2.1.4 – मूर्ख.)

गाछ n कोय भी बीज सॅ अंकुरित होय कॅ वही बीज वाला फल उपजा दै वाला पौधा के बड़ो रूप जेकरा मॅ मोटो तना ठल्ली होय छै आम, कटहर, लीची के गाछ (sem. domains: 1.5.1 – वृक्ष.)

गाछ आना v बिया मे गाछ निकलना खेतो मे गेहु के गाछ आवी गेलय (sem. domains: 6.2.1.1 – अनाज उगाना.)
गाछ लगाना बारी लगाना पेर पौधा सब लगाना (sem. domains: 6.2.1.7 – पेड़ उगाना.)

गाड़ना v मरलो आदमी कॅ खद्‍दा खानी कॅ गाड़ी देना ओकरा सिनी मरलो आदमी कॅ गाड़ी कॅ आबी रहलो छै। (sem. domains: 2.6.6.5 – Bury.)

गीढो रसी मे गढ़ो परी गैलै (sem. domains: 6.6.4.1 – ड़ोरी में गाँठ.)

गील्ला n कोय चीज जेकरा मॅ पानी मिललो रहै छै महलम, गील्ला पौडर (sem. domains: 1.3.5 – पानी के घोल.)

गुड़ बाते Adjective ओकरा पास बड़या बातेछै राहुल कँ पास बड़या बातेछै (sem. domains: 3.2.4.3 – रहस्यपूर्ण.)

गुरमुख/ दीक्षा लेबो v गुरु के द्‍्वारा दीक्षा देना/ जनउधारन का=रवाना श्‍याम गुरमुख होलै (sem. domains: 2.6.4.7 – Initiation.)

गेहु बुनना v गेहु बुनना हमरा खेतो मे गेहु बुनकै (sem. domains: 6.2.1.1.2 – गेहूँ उगाना.)

गोढ़ीया गोढ़ीया पानि मे मछरि पकडै छे (sem. domains: 6.6.7 – पानी के साथ काम करना.)

गोदि लेलके v दोसर के बच्‍चा कॅ गोदि लेलकै जेकरा आपनो बच्‍चा नै होय छै वें आपना लेली दोसरा के बच्‍चा गोदी लै छै (sem. domains: 4.1.9.6 – गोद लेना, ग्रहण करना, स्वीकार करना.)

गोसांय जेकरो घरो मे लोग पुजा करै छे (sem. domains: 6.6.5.3 – मूर्ति.)

घरौवा n घरो के बनलो इ टोकरी हमरो घरो के बनलो छेकै (sem. domains: 6.1.6 – हाथ से बना हुआ.)

घाम 1देहो से निकलै बाला पसीना (sem. domains: 2.2.6 – पसीना.) 2गरमी मे देह से निकलै बाला पानी

घिसियाय कॅ चलै वाला जानवर n पेट के बल धरती या देवाल सब पर घिसियाय कॅ चलै वाला जानवर गिरगिट, साँप, छिपकीली (sem. domains: 1.6.1.3 – रेंगने वाले जंतु.)
घिसियाय कॅ चलै वाला जानवर के अंग n जे जानवर घिसियाय कॅ चलै छै ओकरो देहो के अंग पेट, पीठ, पूछड़ी, मुँय (sem. domains: 1.6.2.2 – किसी रेंगने वाले जंतु के भाग.)
घोर रहे ला घोर बनेला (sem. domains: 6.5.1.1 – घर.)

घोर के कोना ईमारत के ऐक भाग (sem. domains: 6.5.2 – एक इमारत का भाग.)

घोर के परकार बहुते रंग के घोर (sem. domains: 6.5.1.2 – घरो के प्रकार.)

घोर बनावे वाला सामान ईट, बालु, गिति (sem. domains: 6.5.3 – इमारत सामग्री.)

घोरवाला, घोरवाली/ कन्या जे मरदाना से एक जलानी के बियाह भयले, जे जलानी से एक मरदाना के बियाह भयले हमरो कनिया खूब बढ़ियाँ छै। हमरो कनिया खूबसूरती छै। (sem. domains: 4.1.9.2.1 – पति, पत्नी.)