अंडरपास सड़क की मांग को लेकर ग्रामीणों का चौथे  दिन भी धरना जारी;

 मुंगेर से मिर्जापुर चौकी तक बन रहे फोरलेन सड़क निर्माण के चौथे फेज में प्रधानमंत्री सड़क कुमारशाही गांव के समीप ग्रामीणों ने अंडरपास सड़क की मांग को लेकर मंगलवार को चौथे  दिन भी धरना जारी है ।

अंडरपास सड़क नहीं बनाए जाने से नाराज ग्रामीण तीन  दिन से लगातार रात दिन धरने पर बैठे हैं। ग्रामीणों का आरोप है कि अगर प्रशासन ने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क का अंडरपास निर्माण नहीं करती है तो  करीब एक दर्जन  गांव के ग्रामीणों का रास्ता बंद हो जाएगा। उक्त सड़क झारखंड के सीमावर्ती आधा दर्जन गांव  को भी जोड़ती है। धरने से पहले ग्रामीणों ने अधिकारियों व नेताओं से फरियाद की थी। लेकिन अभी तक  कोई सुनवाई नहीं हो पाई। मजबूरन ग्रामीणों को अनिश्चितकालीन  धरने पर बैठना पड़ा।  अगर रास्ता बंद हो गया तो ग्रामीणों को अपने गांव तक जाने के लिए करीब सात  से आठ किलोमीटर की  अधिक दूरी तय करनी पड़ेगी।

 बुधवार को काम कर रही ऐपको कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर त्रिपाठी  पहुंचे तथा ग्रामीणों को समझाया कि अंडर पास बनाए जाने वाले जगह को छोड़कर  अन्य जगहों पर काम करने दिया जाए लेकिन ग्रामीण मानने को तैयार नहीं हुए। मालूम हो कि  निर्माण हो रहे फोरलेन सड़क पर आवागमन पूर्ण रूप से बाधित कर धरना दिया जा रहा है। ऐसे में कंपनी के गाड़ियों के आवागमन भी प्रभावित है।