अब दारोगाओं की नहीं चलेगी मन की मरजी

नीमाचांदपुरा. न्यायालय से जमानत के लिए केस डायरी भेजवाने को दारोगा जी की अब जी हुजूरी नहीं करनी होगी. जमानत का आवेदन न्यायालय में आते ही कांड के आइओ को सात दिनों के अंदर केस डायरी कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत करना होगा.
Source: Begusarai News