आदिवासी गांव में फैली डायरिया

बौंसी: बांक ललमटिया गांव के संजय हांसदा व उसकी पत्नी संझली मरांडी पिछले दो दिनों से डायरिया रोग से पीड़ित हैं. रेफरल अस्पताल में दोनों का इलाज चल रहा है. अस्पताल में सरकारी स्तर से दी जाने वाली दवा की कमी रहने के कारण बाजार से दवा खरीद कर लानी पड़ रही है.
Source: Banka News