इंग्लिश चिचरौंन में अंडर पास को लेकर ग्रामीणो ने दिया धरना;

अकबरनगर। थाना क्षेत्र के इंग्लिश चिचरौंन पंचायत के ग्रामीणों ने सोमवार को अंडर पास व सर्विस रोड की मांग को लेकर मुंगेर मिर्जाचौकी फोरलेन निर्माण कार्य को बंद करा पुनः  धरना पर बैठ गए। धरना की सूचना मिलने पर एनएचएआई के अधिकारी मौके पर पहुंच ग्रामीणों से बात की।साथ ही ग्रामीणो व किसानों को 15 फरवरी तक अंडर पास बनाने को लेकर आश्वासन दिया।जिसके बाद ग्रामीणो ने धरना को समाप्त किया।

इसके पूर्व शनिवार को गांव के जनप्रतिनिधियों व ग्रामीणों ने डीएम को आवेदन देकर अंडर पास व सर्विस रोड की मांग को लेकर न्याय की गुहार लगायी थी। अंडर पास की मांग पूरी नहीं होने पर शांतिपूर्ण तरीके से धरना देने की बात कही थी। जिसके बाद सोमवार को मुखिया प्रतिनिधि ओमद्दत चौधरी व उपमुखिया प्रभाकर कुमार सिंह के नेतृत्व में सैकड़ो ग्रामीणों ने निर्माण स्थल पर पहुंच अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए। ग्रामीण पूर्व में कई बार अपनी मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन व निर्माण कार्य का विरोध कर चुके हैं। एनएचएआई के अधिकारियों से लगातार मोबाइल पर आश्वासन मिल रहा है। लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया। एनएचएआई के अधिकारी अंजनी कुमार ने बताया कि ग्रामीणों की मांग को सुन ली गई है। उनकी मांग को पूरी करने के लिए 15 फरवरी तक का समय लिया गया है।

क्या है पूरा मामला :

अकबरनगर थाना क्षेत्र के इंग्लिश चिचरौंन पंचायत से दक्षिण बहियार में स्थित सैकड़ों बीघे की खेत है। पंचायत के करीब पांच हजार की किसानो का खेत आने जाने के लिए एक मात्र 25 फिट चौड़ी सड़क का सहारा है। जहां से किसान व ग्रामीण फसल, खाद, वाहन, खेती सम्बंधित सामग्री लेकर आवागमन करते है। साथ ही यह रास्ता कई गांवों को भी जोड़ता है। लेकिन मुंगेर मिर्जाचौकी फोरलेन बनने पर वह कच्ची सड़क बाधित हो जाएगा। फोरलेन बनने के बाद किसानों को डेढ़ से दो किलोमीटर तक घूमकर खेतो में जाना पड़ेगा। जिससे किसानों में आक्रोश है। किसान व ग्रामीण अंडरपास व सर्विस रोड की मांग को लेकर धरना दिए है।