उद्यमियों की सभी समस्याओं का किया जाएगा समाधान;

भागलपुर। उद्यमियों की कोई समस्या नहीं हो, इसका प्रयास उद्योग विभाग कर रहा है। विभाग की टीम ने मंगलवार को कार्यशाला में यह जानकारी दी। रेशम भवन में ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस पर आयोजित कार्यशाला में कई विभाग के अधिकारी आये थे। कार्यक्रम का उद्घाटन वाणिज्यकर विभाग के सहायक आयुक्त आशीष व सौरभ कुमार, बियाडा के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक प्रदीप कुमार गुप्ता, जिला उद्योग केंद्र के प्रभारी महाप्रबंधक अखिलेश कुमार सिंह, बिजली विभाग के आई मैनेजर सौरभ कुमार आदि ने किया।

कार्यशाला में उद्यमियों ने बिजली से संबंधित परेशानियों का जिक्र किया। एक उद्यमी ने कहा कि कटौती की जानकारी नहीं मिलती है। अधिकारी ने कहा कि विभाग के द्वारा किस एरिया में कितने बजे तक बिजली कटेगी, इसकी जानकारी दी जाती है। एक उद्यमी ने कहा, सुविधा एप के माध्यम से बिजली के लिए आवेदन किया था, लेकिन उनके आवेदन को रद्द कर दिया गया। रद्द का कारण जमीन की रसीद नहीं कटना बताया गया। इस पर अधिकारी ने कहा कि जमीन या मकान पर पहले से बिजली का बकाया होगा। नये मालिक को इसके लिए पहले बिजली का भुगतान करना होगा। अधिकारी ने बताया कि बिजली से अगर कोई समस्या हो तो हर डिवीजन में सुविधा काउंटर होता है। वहां तैनात कर्मी उपभोक्ताओं की मदद करता है। वो बिजली कनेक्शन के लिए आवेदन भी जमा करेगा।

जीएसटी की भी दी गयी जानकारी

वाणिज्यकर विभाग के सहायक आयुक्त आशीष व जीएसटी कार्यालय के सहायक आयुक्त सौरभ कुमार ने उद्यमियों को कैसे जीएसटी का आवेदन करना है और जीएसटी का लाभ कैसे ले सकते हैं, इसकी जानकारी सरल तरीके से दी। अधिकारियों ने बताया कि जीएसटी के लिए ऑनलाइन आवेदन करते हैं तो सात दिन में आपको नंबर मिल जाता है।

छह रुपये वर्गफीट मिलेगी बियाडा में जमीन

बियाडा के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक प्रदीप कुमार गुप्ता ने बताया कि ‘प्लग एंड प्ले योजना के तहत उद्यमियों को छह रुपये वर्गफीट की दर से बियाडा में जमीन उपलब्ध करायी जा रही है। इसमें उद्यमी को टेक्सटाइल से संबंधित ही काम करना होगा। जनरल लैंड भी उद्यमियों को मिलती है। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा। जो जमीन खाली होगी वो ही उद्यमी को मिलेगा।

अपनी समस्याओं को पोर्टल पर डाल सकते हैं उद्यमी

प्रभारी महाप्रबंधक ने बताया कि उद्यमी अपनी समस्याओं को पोर्टल पर डाल सकते हैं। इसके अलावा सिंगल विंडो सिस्टम के तहत काम कराने के लिए भी उद्यमी लाइसेंस संबंधी जानकारी लेने के लिए अपनी बात रख सकते हैं। उन्होंने बताया कि सरल तरीके से उद्यमी कैसे कारोबार करें इसकी तैयारी की जा रही है। इसी के तहत यह कार्यशाला का आयोजन किया गया। मंच संचालन मो. सज्जाद कर रहे थे। कार्यक्रम में उद्यमी अजय कुमार आलोक, स्वीटी कुमारी, रितिका, विभाग के शशि कुमार आदि शामिल थे।