कायाकल्प की टीम रंगरा और इस्माईलपुर सीएचसी की व्यवस्था से संतुष्ट;

कायाकल्प की राज्य स्तरीय टीम ने बुधवार को रंगरा और इस्माईलपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) का मूल्यांकन किया। पटना से आई टीम ने अस्पताल में मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं को देखा। अस्पताल की सुविधाओं से टीम संतुष्ट दिखी।

राज्य स्तरीय मूल्यांकन के लिए आई कायाकल्प की टीम में केयर इंडिया पटना से विकास पांडेय और राज्य स्वास्थ्य समिति से रंजन कुमार शामिल थे। उनके साथ जिला से गुणवत्ता सलाहकार डॉ. प्रशांत कुमार और केयर इंडिया के डीटीएल डॉ. निनकुश अग्रवाल भी मौजूद थे। जिला गुणवत्ता सलाहकार डॉ. प्रशांत कुमार ने बताया कि पटना से आई टीम ने दोनों अस्पतालों में मरीजों को मिलने वाली सुविधाओं को परखा। एक-एक चीज की जानकारी ली। टीम के सदस्य दोनों ही अस्पतालों की व्यवस्था से संतुष्ट दिखे।

डेंगू के इलाज की भी थी व्यवस्थाः राज्य स्वास्थ्य समिति के रंजन कुमार ने बताया कि दोनों ही अस्पतालों में डेंगू के इलाज तक की व्यवस्था थी। सीएचसी स्तर पर डेंगू के इलाज होने की व्यवस्था बहुत बड़ी बात है। अस्पतालों के ओपीडी से लेकर लेबर रूम तक साफ-सुथरे थे। मरीजों के लिए दवा उपलब्ध थी।