कुटी टोला,रानी दियारा में कृषि योग्य भूमि का हो रहा भीषण कटाव;

 प्रखंड के बीरबन्ना पंचायत की अंठावन गांव से कुटी टोला, रानी दियारा समेत विभिन्न जगहों पर पिछले कुछ  दिनों से  कृषि योग्य भूमि का भीषण कटाव जारी है। कटाव की वजह से  लंबे क्षेत्र में प्रतिदिन दर्जनों किसानों के  कृषि योग्य जमीन एक से 2 एकड़ जमीन गंगा के गर्भ में विलीन होती जा रही है। कृषि योग्य भूमि कटने से किसानों में  रोजी-रोटी की चिंता सताने लगी है। 

  अंठावन गांव के  सुरेश साह, सिकंदर महतो, कुटी टोला के देवेंद्र कुमार, अनिल कुमार,  जगदीश मंडल आदि  ग्रामीणों का करीब दो बीघा जमीन दो दिनों में  कटाव की भेंट चढ़ गई है। किसानों का कहना है कि दो दशक से  तोफील, अंठावन, रानी दियारा, समेत कई गांव के घर समेत कृषि योग्य  सैकड़ों एकड़ जमीन  गंगा में समा चुकी है। दर्जनों किसान परिवार जमीन से बेघर होकर  रोजगार के लिए पलायन कर चुके हैं।

वहीं बटेश्वर स्थान से तोफिल, अंठावन, रानी दियारा होते  टपुआ गांव तक कमोबेश कटाव का दौर जारी है। पंचायत के मुखिया  ललिता देवी प्रतिनिधि संजय मंडल, पूर्व  पंचायत समिति सदस्य  विपिन पासवान ने बटेश्वर से टपुआ गांव तक  कटाव निरोधी कार्य कराए जाने की मांग की है। जिससे कि किसानों की घर के साथ-साथ आजीविका का सहारा कृषि योग्य भूमि का कटाव रुक सके।