गोवा में स्वीकृत हुआ भागलपुर स्मार्ट सिटी का बिजनेस प्लान:भागलपुरी सिल्क, कतरनी चूड़ा व जर्दालु आम की अब ऑनलाइन बिक्री भी होगी;

भागलपुरी सिल्क, कतरनी चूड़ा व जर्दालु आम की अब ऑनलाइन बिक्री भी होगी। देशभर के स्मार्ट सिटी से जुड़े अफसराें का गाेआ में हुए सम्मेलन में भागलपुर स्मार्ट सिटी का बिजनेस प्लान स्वीकृत हुआ है। स्मार्ट सिटी अमेजन व फ्लीपकार्ट जैसी एजेंसियाें से करार कर प्लेटफाॅर्म तैयार कराएगा, जहां से सीधे किसानाें और बुनकराें काे उनके मेहनत की कमाई का हिस्सा मिलेगा। 197 कराेड़ से बनने वाले कमांड एंड कंट्राेल सेंटर की सालाना कमाई करीब 50 कराेड़ रुपए होने का अनुमान है। पिछले दिनाें नगर आयुक्त स्मार्ट सिटी टीम के साथ गाेआ में हुए सम्मेलन में भाग लेने गए थे।

पब्लिक अनाउंसमेंट सिस्टम से भी होगी कमाई
151 किलाेमीटर ऑप्टिकल फायबर केबल से निजी एजेंसी व सरकारी संस्थानाें काे इंटरनेट कनेक्शन देकर 22 से 25 कराेड़ रुपए की कमाई की जा सकती है। जबकि एलईडी स्क्रीन के जरिए हाेर्डिंग की जगह इस डिसप्ले से 20 कराेड़ रुपए एवं पब्लिक अनाउंसमेंट सिस्टम से करीब पांच कराेड़ रुपए कमाई का टारगेट तय किया है। मार्च के आखिर तक जब कंट्राेल एंड कमांड सेंटर का साॅफ्टवेयर पूरी तरह इंस्टाॅल हाे जाएगा ताे बिजनेस माॅडल पर काम शुरू हो जाएगा।

नगर आयुक्त डाॅ. याेगेश कुमार सागर ने इस पर काम शुरू कर दिया है। वहीं अपराध काे कंट्राेल करके व कम करने की दिशा में भी कमांड सेंटर के जरिए काम शुरू हाे गया है। जिसमें इंटेलिजेंस ब्यूराे के तहत एनसीआरबी का अलग से एक सर्वर इंस्टाॅल किया गया है। जहां किसी भी तरह की गलत सूचना देने या अपराधियाें के फेस व फिंगर के आधार पर पहचान की जा सकेगी।

पटना से जुड़ेगा कमांड सेंटर : भविष्य में सबकुछ तैयार हाेने के बाद पटना स्मार्ट सिटी के कंट्राेल एंड कमांड सेंटर से इसे जाेड़ दिया जाएगा, ताकि पटना में बैठे पुलिस मुख्यालय के अधिकारी सीधे भागलपुर पर नजर रख सकें।