टपुआ दियारा में जलस्तर बढ़ने से कटाव बढ़ा;

पीरपैंती। प्रखंड के सर्वाधिक कटाव प्रभावित टपुआ दियारा में गंगा के जलस्तर में तेजी से वृद्धि हो रही है। जिससे जगह-जगह कटाव भी हो रहा है। गंगा किनारे स्थित जमीन भी लगातार दरक रही है तथा धंसना भी गिर रहा है। जिससे ग्रामीण दहशत में हैं। ग्रामीणों का कहना है कि यदि विभाग द्वारा शीघ्र ही कोई ठोस उपाय नहीं किया गया तो गांव पर खतरा बढ़ जाएगा। अभी एक मात्र बुनियादी विद्यालय टपुआ पर कटाव का खतरा मंडरा रहा है। हालांकि उसको बचाने की कवायद की गई है। कटाव निरोधी कार्य कराए गए हैं। सोमवार को जहां कटाव हुआ था वहां का स्थल निरीक्षण बाढ़ संघर्षात्मक बल के अध्यक्ष राजीव रंजन चौधरी, एसडीओ मुकेश कुमार तथा जेई विक्रम कुमार ने कर स्थिति का जायजा लिया था। मंगलवार को कटाव स्थल पर बंबू रौल व बेड रौल तथा नायलॉन क्रेट से कटाव निरोधी कार्य कराया गया। ग्रामीण सुबोध यादव, महेश्वर साह, निर्मल यादव, अटल पासवान, भगवान मंडल ने कहा कि बंबू और बेड रौल से काम नहीं चलेगा। एनटी रोजन का ठोस कार्य कराना होगा तभी यह कारगर होगा।