तैयारियों को ले बैठक आयोजित:अंग की धरती पर अंगिका युवा महोत्सव 9 अप्रैल को होगा;

अंगिका भाषा को समृद्धि देने के साथ क्षेत्रीय सभ्यता और संस्कृति की विरासत को संजोए रखने के संबंध में अंग की धरती पर पहली बार अंगिका युवा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। यह कार्यक्रम 9 अप्रैल को चिल्ड्रेन पार्क स्थित पाइन विला कैफे में होगा। अंगिका युवा महोत्सव की खासियत यह होगी कि इसमें सभी कार्यक्रम अंगिका भाषा में आयोजित किए जाएंगे। अंगिका ब्यॉएज की टीम ने सैंडिस कंपाउंड में इस बारे में बैठक की और आयोजन की रुपरेखा बनाई। संस्थापक डॉ. मंजीत सिंह किनवार ने बताया कि कुछ समय से क्षेत्र के कार्यक्रमों में लगातार अंगिका भाषा व संस्कृति की उपेक्षा हो रही है।

इसलिए इस कार्यक्रम की रणनीति बनाई गई है ताकि स्थानीय लोगों में अपनी मातृभाषा के प्रति जागरूकता आए। युवा कवि पूर्णेन्दु चौधरी ने कहा कि अंगिका हमारी मातृभाषा है। वायु सेना से रिटायर्ड सार्जेंट झिंगरू सिंह ने कहा कि भारतेंदु हरिश्चंद्र जैसे महान साहित्यकार ने भी कहा है कि अपनी भाषा की उन्नति के बिना किसी क्षेत्र का विकास संभव नहीं है। हमें इस बात को नहीं भूलना चाहिए। बैठक में कुमार गौरव, चक्रधर, आलोक सहित अंगिका ब्यॉएज के सदस्य सहित कई युवा मौजूद रहे।

लोक कलाकार दिखाएंगे हुनर

डॉ. मंजीत ने बताया कि इस आयोजन में अंग क्षेत्र के चुनिंदा लाेक कलाकार वादन, गायन, नृत्य, अभिनय और काव्य प्रस्तुति के जरिए अंगिका भाषा की पहचान बनाए रखने का प्रयास करेंगे। इसके अलावा कार्यक्रम में क्षेत्र की संस्कृति पर आधारित लघु फिल्मों का प्रदर्शन भी किया जाएगा ताकि युवा अपनी भाषा के प्रति संजीदा हो सकें। डिजिटल युग में टीम इस कार्यक्रम के जरिए अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने का प्रयास करेगी।