नवगछिया: गोपाष्टमी मेला में भागवत कथा की बही गंगा, श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी;

नवगछिया में गोशाला प्रांगण में गोपाष्टमी मेला का शुभारंभ गोपाल केजरीवाल द्वारा गो पूजन के साथ शुरू हुआ। इस अवसर पर विधायक नरेंद्र कुमार नीरज, कमेटी उपाध्यक्ष अजय रुंगटा, सचिव रामप्रकाश रुंगटा, जगदीश मावंडिया, डॉ बीएल चौधरी सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने गो माता की पूजा की। मौके पर भागलपुर के एक श्रद्धालु ने अपनी मां के नाम पर एक साहीवाल गाय दान किया। जिसका मां के नाम पर लक्ष्मी नाम रखा गया। इसके बाद वर्ष 2009 में नवगछिया के गोशाला का उद्धार करनेवाले कोलकाता के बाल व्यास पं. श्रीकांत शर्मा की देखरेख में भागवत कथा के पहले दिन भव्य शोभा कलश यात्रा निकाली गई। 108 कलश लेकर महिलाओं ने पूरे बाजार में भ्रमण किया।

कलश शोभायात्रा में नगर परिषद के निवर्तमान चेयरमैन प्रीति कुमारी, डब्लू यादव सहित बिनोद मंडल, मुरारी चिरानिया, मुकेश राणा सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। संध्या समय श्रीमद भागवत कथा ज्ञान यज्ञ के व्यास पीठ पर बैठे बाल व्यास पं. श्रीकांत शर्मा ने कहा कि भागवत कथा से गोविंद मिलता है। भागवत कथा श्रवण से सभी कष्टों से मुक्ति मिलती है। उन्होंने कहा कि जिस तरह दवाइयों के सहारे शरीर को ठीक से चलाया जाता है। ठीक उसी प्रकार भजन के सहारे मन को ठीक से चलाया जा सकता है। भागवत कथा सुनने के लिए बड़ी संख्या में महिलाओं के अलावा पुरुषों ने भी भाग लिया था।