निगम की स्थायी समिति की बैठक में हुआ फैसला:नक्शे के हिसाब से घर नहीं बनाया तो ज्यादा लगेगा होल्डिंग टैक्स;

नगर-निगम की स्थायी समिति की बैठक में सोमवार को 39 लाख का संभावित बजट पेश किया गया। बैठक में मेयर वसुंधरा लाल, डिप्टी मेयर डॉक्टर सलाहउद्दीन अहसन, प्रीति शेखर, रंजीत मंडल, संध्या गुप्ता समेत अन्य पार्षद मौजूद रहे। बैठक की शुरुआत में नगर आयुक्त योगेश सागर ने बताया कि बजट इस तरह का होना चाहिए ताकि शहर में विकास कार्यों के बजट की कोई कमी न रहे। बजट शहरवासियों के लिए घाटे का सौदा न हो। पिछली बार 18 करोड़ के लक्ष्य में से 14 करोड़ टैक्स वसूल हुआ था। इस बार होल्डिंग टैक्स वसूली का जिम्मा आउटसोर्सिंग एजेंसी को दिया गया है।

इस बार के 50 करोड़ टैक्स वसूली का लक्ष्य है। ट्रेड लाइसेंस शुल्क से भी वसूली का लक्ष्य पूरा हाेगा। नक्शे के मानक का उल्लंघन कर बनाए गए मकान मालिकों से ज्यादा होल्डिंग टैक्स लेने पर विचार चल रहा है। बैठक में वार्ड 21 के पार्षद संजय सिन्हा ने शहर के सभी विवाह भवन, धर्मशाला, लॉज आदि का सर्वे कर उनसे टैक्स लेने का सुझाव दिया। बैठक में इसपर सहमति बनी। सर्वे कराने को लेकर निर्देश भी दिया गया। साफ-सफाई व जलापूर्ति पर भी चर्चा हुई। नगर आयुक्त ने कहा कि माह के अंत तक बजट को पारित कराया जाएगा।