परीक्षा स्थगित कराने के लिए छात्रों का हंगामा, 19 से ही होगी;

भागलपुर। टीएमबीयू के स्नातक पार्ट तीन की परीक्षा स्थगित कराने की मांग को लेकर शुक्रवार को छात्र-छात्राओं ने विश्वविद्यालय में जमकर हंगामा किया। हालांकि उनकी मांग नहीं मानी गयी। अंतत: छात्रों के करीब छह घंटे से अधिक के आंदोलन के बाद भी विवि प्रशासन ने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत 19 जनवरी से ही परीक्षा लेने का निर्णय लिया। विश्वविद्यालय के बाद देर शाम तक कुलपति आवास के बाहर धरना पर बैठे छात्र निराश होकर वापस लौट गये।

पार्ट तीन की परीक्षा को स्थगित कराने की मांग को लेकर विभिन्न कॉलेजों के 500 से अधिक छात्र शुक्रवार सुबह 11 बजे विश्वविद्यालय पहुंचे। इन छात्रों ने विवि गेट के सामने हंगामा और नारेबाजी करना शुरू किया। हालांकि विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन का गेट बंद होने के कारण छात्र अंदर नहीं जा सके और गेट के बाहर ही नारेबाजी करते रहे। इस दौरान विश्वविद्यालय में कुलपति, प्रतिकुलपति, डीएसडब्ल्यू, परीक्षा नियंत्रक सहित अन्य पदाधिकारी नहीं थे। थोड़ी देर में प्रॉक्टर डॉ. एसडी झा विश्वविद्यालय पहुंचे। वहीं पुलिस वाले भी विश्वविद्यालय पहुंच गये थे। करीब तीन घंटे हंगामा के बाद प्रॉक्टर ने कुलपति से बात की और पांच छात्र प्रतिनिधियों को उनसे मिलवाने के लिये कुलपति आवास लेकर गये।

वहां कुलपति से मिलकर इन छात्रों ने मांग की कि इन लोगों का कोर्स पूरा नहीं हुआ है तो वे परीक्षा कैसे देंगे। इसलिये वे लोग अपने कोर्स पूरा कराने की मांग कर रहे हैं। हालांकि कुलपति ने इन छात्रों की मांगे नहीं मानी और अंतत: आश्वासन दिया कि वह परीक्षा के बीच गैप बढ़ाने का प्रयास करेंगे। इसके बाद छात्र प्रतिनिधि बाहर आये और विश्वविद्यालय में बड़ी संख्या में इंतजार कर रहे छात्रों को बताया। हालांकि उस समय तक विश्वविद्यालय से काफी छात्र जा चुके थे। फिर भी काफी संख्या में छात्र-छात्राएं कुलपति आवास पर पहुंचे गये और गेट के बाहर आंदोलन कर परीक्षा को स्थगित कराने की मांग करने लगे। छह बजे के बाद ठंड बढ़ते ही ये छात्र-छात्राएं धीरे-धीरे जाने लगे। हालांकि हांगामा नहीं बढ़े इसको लेकर कुलपति आवास पर भी पुलिस के इंतजाम थे।

अन्य छात्रों को हुई परेशानी, नहीं हुआ काम

सुबह से विश्वविद्यालय में आंदोलन होने के कारण अन्य छात्रों को परेशानी हुई। दूसरे कार्यों के लिये विश्वविद्यालय पहुंचे छात्र-छात्राओं का काम नहीं हुआ। इन छात्रों ने कहा कि वे लोग दूर से अपने काम कराने विश्वविद्यालय पहुंचे हैं लेकिन विवि का गेट बंद होने के कारण काम नहीं हो रहा था। कुछ छात्रों ने बताया कि उनलोगों को अंकपत्र में संशोधन कराना था तो कुछ को नाम में संशोधन कराना था लेकिन गेट बंद होने के कारण वे लोग काम नहीं करा सके। वहीं विश्वविद्यालय के कई कर्मचारी भी बाहर ही घूमते नजर आये।

19 से ही होगी परीक्षा, गैप बढ़ेगा

कुलपति प्रो. जवाहर लाल ने कहा कि पार्ट तीन की परीक्षा 19 जनवरी से ही ली जायेगी। सुविधा के लिये इसके पेपर के बीच गैप को बढ़ा दिया जायेगा। मैंने कोर्ट में एफिडेविट दिया है कि सत्र को सही करेंगे। वहीं राजभवन और सरकार का भी सत्र ठीक करने के लिये दबाव है कि समय पर परीक्षा कराकर समाप्त कर देंगे। इसलिये एक साथ कई परीक्षाएं कराई जायेंगी ताकि जल्द से जल्द सत्र को सुधारा जा सके।