भागलपुर पहुंचा गंगा क्रूज विलास:21 जनवरी के बदले 19 को ही सुल्तानगंज पहुंचा, विदेशी सैलानियों ने अजगैबीनाथ की पूजा अर्चना की;

बनारस से चलकर गंगा विलास क्रूज 19 जनवरी को भागलपुर के सुल्तानगंज अजगैबीनाथ गंगा तट पर पहुंचा। जहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच स्थानीय प्रशासन और भाजपा नेताओं के द्वारा विदेशी सैलानियों का स्वागत किया गया। गंगा तट पर उतरने के बाद सैलानियों का स्वागत स्थानीय लोगों और स्कूली छात्र छात्राओं ने तिलक लगाकर, पुष्पगुच्छ देकर और पुष्प वर्षा कर किया। उसके बाद विदेशी पर्यटकों के द्वारा सुल्तानगंज नगर का भ्रमण करते हुए अंग की सभ्यता और संस्कृति की जानकारी हासिल की। इस दौरान विदेशी सैलानी काफी उत्साहित दिखे। भारतीय सभ्यता और संस्कृति को लेकर उन्होंने बताया कि यहां की सभ्यता और लोग काफी अच्छे लगे।

अजगैबीनाथ में की पूजा अर्चना

सुल्तानगंज के अजगैबीनाथ मण्ठ पर पूजा अर्चना किया। भगवान शिव को जलार्पण किया। शिव को मंत्रोच्चार के साथ जल अर्पण किया। यंहा पर बने कलाकृतियों को भी नजदीक से जाना। सैलानियों ने बताया कि यंहा आकर काफी अच्छा लगा। उन्होंने बताया की पूजा कर काफी अच्छा लगा।

लोगों की उमड़ी भीड़

क्रूज को देखने के लिए स्थानीय लोगों की भीड़ उमड़ गई। क्रूज को नजदीक नहीं लाया गया। छोटे जहाज से सैलानियों को लाया गया। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे।

सुल्तानगंज से बटेश्वर स्थान के लिए प्रस्थान किया

सुल्तानगंज से क्रूज कहलगांव के बटेश्वर स्थान के लिए रवाना हुए। वहां पर बटेश्वर स्थान, विक्रमशिला सहित अन्य धार्मिक स्थलों का भ्रमण करेगी। उसके बाद वहां से आगे के लिए प्रस्थान करेगी।

21 को पहुंचना था क्रूज

सुल्तानगंज क्रूज 21 जनवरी को पहुंचना था। लेकिन 19 जनवरी को ही क्रूज सुल्तानगंज पहुँची। बेगूसराय के सिमरिया में नहीं रुकने के कारण क्रूज 2 दिन पूर्व ही पहुंच गया। पूजा अर्चना के बाद क्रूज को आगे बढ़ाया गया।