भागलपुर में रामनवमी व रमजान को लेकर प्रशासन सख्त:शोभायात्रा निकालने वालों को लेना होगा लाइसेंस, डीजे पर नहीं बजेंगे अश्लील गाने;

रामनवमी व रमजान को लेकर भागलपुर पुलिस पहले से सख्त है। आपको बता दें कि इसको लेकर शहर के मुख्य चौक चौराहे व सवेंदनशील इलाकों में मजिस्ट्रेट की तैनाती की जाएगी। शहर में रामनवमी को लेकर भव्य शोभा यात्रा निकाली जाती है। एसएसपी ने बताया कि सभी जुलूस में पुलिस बलों की तैनाती रहेगी। अशलील, जाति विशेष या धर्म विशेष गाना पर पूरी तरह से प्रतिबंध रहेगा। अगर कहीं पर इस तरह की सूचना मिली तो उसके ऊपर कार्रवाई की जाएगी।

शोभायात्रा निकालने वालों को लेना होगा होगा लाइसेंस

एसएसपी आनंद कुमार ने बताया कि कोई भी आगे शहर में शोभायात्रा निकालते हैं तो उसे लाइसेंस लेना होगा। बिना लाइसेंस शोभायात्रा निकालने वालों पर कारवाई की जाएगी। जिस जिस रूट से गुजरेंगे, उसको भी दर्शाना होगा। ताकि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं। वहीं एसएसपी ने बताया कि रमजान में मुस्लिम समुदाय के लोग बाजारों में खरीदारी को आते हैं। शाम के समय में भीड़ अधिक रहती है। वहां पर विशेष बलों की तैनाती की जाएगी। वहीं शहर में बाइक सवार फोर्स भी गश्ती करते रहेंगे। ताकि किसी प्रकार का कोई विवाद न हो।

जाम से निपटने के लिए भी रूट मेप किया जा रहा है तैयार

जुलूस निकालने के बाद शहर में पूरी तरह से जाम की समस्या उतपन्न हो जाती है। इसको लेकर रूट मेप भी तैयार किया जा रहा है। जुलूस वाले रूट में गाड़ी की आवाजाही पर रोक लगा दी जाएगी। ताकि बिना जाम में फंसे लोग निकल पाए।

पूर्व में भी चुका है विवाद

रामनवमी के जुलूस को लेकर पूर्व में भी विवाद हो चुका। नाथनगर थाना क्षेत्र में दंगा भड़काने के मामले में केस भी दर्ज किया गया था। धर्म विशेष गाना बजाने को लेकर दंगा जैसी स्थिति बनी थी। इस बार प्रशासन इन सभी चीजों पर विशेष रूप से नजर बनाए रखेंगे। ताकि किसी प्रकार का कोई विवाद न हो।