मार्च तक पूरा होगा जहांगीरा बहू ग्रामीण जलापूर्ति प्लांट;

प्रखंड के कमरगंज पंचायत के जहांगीरा में वर्ष 2011-12 से लगभग साढ़े सात बीघा जमीन पर निर्माणाधीन बहु ग्रामीण जलापूर्ति प्लांट मार्च तक पूरा होने की संभावना है। इस प्लांट से नाथनगर की आर्सेनिक प्रभावित सात पंचायतों और सुल्तानगंज के एक पंचायत की दो वार्डों के लोगों को शुद्ध पेयजल आपूर्ति मुहैया कराई जाएगी।

प्लांट के लिए पहले आईवीआरसीएल कंपनी को 22 करोड़ का ठेका दिया गया था। कुछ वर्षों बाद इस कंपनी के ब्लैक लिस्टेड हो जाने पर जनवरी 2020 से कोलकाता की रियान वाटर टैंक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को बचे कार्यों को पूरा करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। साथ ही पूर्व की बजट में इजाफा करते हुए 39 करोड़ 95 लाख रुपये कर दिया गया है।

पीएचईडी विभाग के जेई की मानें तो आर्सेनिक प्रभावित सुल्तानगंज की किशनपुर पंचायत के दो वार्ड और नाथनगर की सात विभिन्न पंचायतों राघोपुर वार्ड एक से 9, रत्तीपुर बैरिया व गोसांईदासपुर के सभी वार्डो, भुवालपुर के तीन वार्ड, भतौड़िया के तीन वार्ड, शंकरपुर के दो वार्ड तथा रन्नुचक मकंदपुर के वार्ड एक से 13 तक के सभी लोगों को पाइपलाइन के जरिए शुद्ध पेयजल आपूर्ति मुहैया कराने की कार्य योजना बनाई गई है। बहु ग्रामीण जलापूर्ति प्लांट निर्माण कार्य स्थल जहांगीरा से लेकर नाथनगर के दोगच्छी तक कुल 21 किलोमीटर की दूरी में पाइपलाइन बिछाने का काम किया जाना है। विभाग के जेई विकास कुमार की मानें तो इसमें सुल्तानगंज नगर परिषद क्षेत्र अंतर्गत कृष्णगढ़ मोड़ से स्टेशन रोड,बाइपास रोड होते हुए थाना चौक के समीप एनएच 80 किनारे से होकर अब्जूगंज बाजार तक लगभग पांच किलोमीटर की दूरी में पाइपलाइन अब तक नहीं बिछाई जा सकी है। इन पांच किलोमीटर की दूरी में पाइपलाइन बिछाने को लेकर नगर परिषद प्रशासक से एनओसी अब तक प्राप्त नहीं हो सका है। अन्य छूटे जगह पर पाइप विछाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि दोगच्छी में एक एवं रन्नुचक ,हरिदासपुर, राघोपुर, अजमेरीपुर बैरिया में तत्कालिक बोरिंग करा कर पेयजलापूर्ति बहाल किया जा रहा है।

निर्माण कार्य से जुड़े रियान कंट्रक्शन के अधिकारियों की मानें तो इस प्लांट के निर्माणाधीन कंट्रक्शन केमिकल हाउस, सीएलएफ केश एडिटर, गेस्ट हाउस, पीएसटी को छोड़कर अन्य बचे कंट्रक्सन का निर्माण कार्य में बहुत कम काम बचा हुआ है। बचे कार्य तेजी से किया जा रहा है। इसके अलावा निर्माण कार्य स्थल पर ही एक बड़ा 9 लाख लीटर की क्षमता का एक जलमीनार का निर्माण कार्य कराया जाना है।

कार्यस्थल पर मिले रियान कंट्रक्शन कंपनी के सुपरवाइजर रामेश्वर और टिंकू कुमार ने बताया कि कार्य तेजी से चल रहा है। कंपनी मार्च 2023 तक कार्य पूरा कर लेगी।

कंपनी को हर हाल में दिए गए समयावधि मार्च 2023 तक में प्लांट का निर्माण कार्य पूरा करना है। निर्माण कार्य की लगातार मॉनिटरिंग किया जा रहा है। निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है।