सबौर के बाबूपुर से लेकर शंकरपुर तक छठ घाटों को चिन्हित कर वेरीकेटिंग करने की मांग ;

प्रखंड क्षेत्र के इंजीनियरिंग कॉलेज से लेकर शंकरपुर तक खतरनाक गंगा घाटों को चिह्नित कर बैरिकेडिंग करने की मांग स्थानीय जनप्रतिनिधि और सामाजिक कार्यकर्ता ने सबौर व जिला प्रशासन से की है। सबौर के जिउद्दीनपुर चौका गंगा घाट पर गुरुवार को तीन लड़कियों के डूबने के बाद क्षेत्र के लोगों ने ऐसे घाटों को बैरिकेटिंग कर देने की मांग की है। खास कर जियाउद्दीनपुर चौका इंजीनियरिंग कॉलेज के समीप इंग्लिश फरका और बाबूपुर रजंदीपुर के खतरनाक घाटों को छठ पूजा में बनने वाले घाट आम लोगों के लिए सुरक्षित नहीं है। सबौर उत्तरी जिला परिषद जयप्रकाश मंडल फरका मुखिया राजेंद्र प्रसाद मंडल सामाजिक कार्यकर्ता अमित कुमार सहित दर्जनों जनप्रतिनिधियों ने कहा कि क्षेत्र के जितने भी गंगा घाट खतरनाक हैं ऐसे घाट को चिह्नित कर लोगों को आम दिन में स्नान करने के अलावा पर्व त्यौहार में ऐसे घाटों पर आने जाने पर वर्जित किया जाए।