सिग्नल ट्रायल के लिए शुरू हुआ डिवाइडर लगाने का काम;

भागलपुर। स्मार्ट सिटी में स्मार्ट ट्रैफिक के लिए सड़कों पर डिवाइडर लगाने का काम शुरू हो गया है। सोमवार की रात को कचहरी से नगर निगम चौक और तिलकामांझी चौक जाने वाले रास्ते में डिवाइडर लगाया गया है। सुरक्षा कारणों से सड़कों पर प्लास्टिक के डिवाइडर लगाए जा रहे हैं, ताकि किसी तरह की दुर्घटना न हो। दरअसल, चौक-चौराहों पर लोहे का डिवाइडर लगाया गया था। इससे कई वाहन चालक दुर्घटना के शिकार हो गए थे। इस कारण प्लास्टिक के डिवाइडर लगाए जा रहे हैं।

सड़कों की मरम्मती का शुरू नहीं हुआ काम

ट्रैफिक पुलिस ने स्मार्ट सिटी को प्रस्ताव दिया था कि जिन स्थानों पर ट्रैफिक सिग्नल का ट्रायल शुरू होना है, वहां टूटी सड़क की मरम्मती जरूरी है। इसके साथ फुटपाथ को भी डेवलप करना है, ताकि ट्रैफिक जाम की स्थिति न हो। बावजूद अबतक इस दिशा में किसी तरह का काम शुरू नहीं हुआ है।

तीन जनवरी से शुरू होगा ट्रायल

24 दिसंबर को शहर में तीन स्थानों पर ट्रैफिक सिग्नल का ट्रायल शुरू किया गया, लेकिन शुरू होते ही पूरी व्यवस्था ध्वस्त हो गई। पूरा शहर जाम की चपेट में आ गया। कुछ घंटे बाद स्थिति अनियंत्रित होने के बाद जिलाधिकारी ने फिर से वन-वे व्यवस्था को बहाल कर दिया था।

14 जगहों पर सिग्नल शुरू होने में दिक्कत

पूर्व से निर्धारित काम अनुसार 14 स्थानों पर ट्रैफिक सिग्नल हो शुरू होने में अभी परेशानी है। कचहरी चौक, तिलकामांझी चौक और नगर निगम चौक पर ही ट्रैफिक सिग्नल शुरू करने के लिए पर्याप्त संसाधन हैं। बाकी अन्य 11 स्थानों पर सिग्नल के अनुसार संसाधन की कमी है। इसे पूरा करने के बाद ही सिग्नल शुरू हो पाएगा।