सुल्तानगंज: आत्माबाजार बंद कर धरना पर बैठे दुकानदार;

सुल्तानगंज,। शहर के हृदय स्थल पर संचालित आत्मा बाजार के दुकानदारों ने आत्मादास ठाकुरबाड़ी के महंत के द्वारा नोटिस भेजे जाने, किराया नहीं लिए जाने से क्षुब्ध होकर बुधवार को आत्मा बाजार बंद कर धरना पर बैठ गए। धरना स्थल पर बैठे पूर्व पार्षद राहुल ने बताया कि ठाकुरबाड़ी के महंत कश्यप दास द्वारा आत्मा बाजार के दुकानदारों को नोटिस दिया गया है। उन्हें डिफॉल्टर बताया गया है। जबकि बहुत दुकानदारों का एडवांस भी जमा है। आत्मा मार्केट के दुकानदार जब महंत को भाड़ा देने जाते हैं तो वे लेते नहीं हैं। उनके द्वारा दिए गए नोटिस का जवाब दिया जाएगा।

महंत भाड़ा वृद्धि अपने मन से करते हैं। जिसके यहां बकाया नहीं है उसे भी नोटिस दिया गया है। नोटिस के विरोध में भाड़ा नहीं लेने के कारण आत्माबाजार के सभी दुकानदार अपनी दुकान बंद कर शांतिपूर्ण तरीके से धरना पर बैठे हैं। धरना समाप्ति के बाद उन्होंने बताया कि महंत द्वारा इस दिशा में कोई पहल नहीं की गई। हम लोग मिल बैठकर आगे की रणनीति बनाएंगे। उन्होंने बताया कि महंत द्वारा यह कहा जा रहा है कि ऊपर से ही भाड़ा नहीं लेने का आदेश है। दुकानदार पोस्ट ऑफिस के माध्यम से अगर भाड़ा भेजते हैं तो वह वापस कर देते हैं।

दुकानदारों ने मांग की है कि हम लोगों से भाड़ा ले लिया जाए। अगर कोई दुकानदार की मौत हो जाती है तो उसके उत्तराधिकारी को रसीद काटा जाए। जो पूर्व से भाड़ा लिया जाता है वही लिया जाए। इधर आत्मा दास ठाकुरबाड़ी के महंत कश्यप दास ने बताया कि मुझे एक दुकानदार द्वारा जान से मारने की धमकी दी जा रही है। हेड ऑफिस प्रयागराज, मालिक महंत रघुवंशी जी को मेरे ऊपर अनाप-शनाप आरोप लगा कर पत्र दिया गया है। सभी दुकानदार मिलकर मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं। एक दुकानदार अवैध रूप से कब्जा किए हुए है। इसका मामला न्यायालय में चल रहा है। कोर्ट से नोटिस दिया गया है। न्यायालय का आदेश सर्वोपरि है।