उड़ाही कर सड़क पर छोड़ा गाद, ध्वस्त हुई यातायात व्यवस्था;

शीतला स्थान चौक से बौंसी रेलवे अंडर पास के बीच सड़क पूरी तरह से कीचड़ से सनी

-इशाकचक से शीतला स्थान चौक व मिरजानहाट मार्ग में मलवा निकाल कर छोड़ा

जागरण संवाददाता, भागलपुर : शहरी क्षेत्र में मानसून पूर्व नाले की उड़ाही निगम युद्धस्तर पर करा रहा है। 15 मई तक उड़ाही का कार्य पूरा भी करना है। इस अभियान से भले ही जलनिकासी की समस्या दूर होगी, लेकिन वर्तमान दौर में सड़कों पर उड़ाही कर गाद छोड़ दिया है। लाख कोशिशों के बावजूद शहर में जाम की समस्या से छुटकारा नहीं मिल पा रही है। एक तरफ कई जगह सड़कों की खोदाई हो रखी है। जबकि दूसरी ओर बेलगाम हो रहे नाले का उड़ाही कार्य। शहर में दो बड़े कार्यक्रम होने के चलते यातायात व्यवस्था पूरी तरह से पटरी से उतर गई। इससे पूरी यातायात व्यवस्था ध्वस्त हो गई। लोग घंटों जाम में फंसे रहे।

शहर के इशाकचक से शीतला स्थान चौक व मिरजानहाट मार्ग में नाले का मलवा निकाल कर छोड़ दिए जाने से लोगों की मुश्किलें बढ़ गई है। इससे वाहन चालकों व पैदल चलने वाले राहगीरों को काफी परेशानी हो रही है। शीतला स्थान चौक से बौंसी रेलवे अंडर पास के बीच सड़क पूरी तरह से कीचड़ से सनी हुई है। अंडरपास में एक तो पतली सड़क,उस पर अगल- बगल की नाली से निकाला गया कचरे का ढेर लोगों की परेशानी बढ़ा रहा है। इससे सड़क पर जाम की स्थिति भी बन जा रही है। पिछले एक सप्ताह से यही हाल है शहर के शीलता स्थान चौक से गुड़हट्टा चौक रोड का बना हुआ है।

गैंग से जुड़े सफाई कर्मियों ने सड़क किनारे बनी नाली की सफाई के बाद उसमें से निकले कचरे को सड़क के किनारे ही छोड़ दिया है। इससे सड़क का एक हिस्सा कचरे ने घेर रखा है,जिस कारण चलने की जगह कम हो गई है। सफाई के दौरान नाली के ऊपर से हटाए गए स्लैब भी वापस नहीं रखे गए। इस कारण पैदल यात्री भी फुटपाथ के बजाए सड़क पर चलते हैं, इससे जाम लग रहा है। तो दूसरी तरफ इस मलबे से निकलने वाली दुर्गंध से राहगीर व स्थानीय लोग व दुकानदार परेशान है। कचरा सड़क पर छोड़ दिया और उसे उठाया भी नहीं गया। निगम कर्मियों का कहना है कि गाद को सूखने के लिए रखा था। कचरा सूख जाने के बाद इसे हटा लिया जाएगा।