घर बैठे ही खुलवाइए राष्ट्रीय पेंशन योजना खाता, डाक विभाग ने शुरू की Online सर्विसेज, जानें और भी स्कीम;

भागलपुर : अब भागदौड़ करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। ऐसा इसलिए क्योंकि अब ग्राहक घर बैठे ही राष्ट्रीय पेंशन योजना (एनपीएस) की खाता खुलवा सकेंगे। डाकघर तेजी से हाईटेक हो रहा है। ग्राहक सेवाएं आनलाइन की जा रही है। हाल ही में मेल से जुड़ी सेवाएं रजिस्ट्री, पार्सल, स्पीड पोस्ट आदि की बुकिंग के लिए क्यूआर कोड स्कैन कर पेमेंट करने की सुविधा शुरू की गई है। इसी कड़ी में अब ग्राहक र एनपीएस का खाता घर बैठे खोल सकेंगे। एनपीएस के लिए अभी तक डाकघर के चक्कर काटने पड़ते थे, लेकिन अब यह सेवा भी आनलाइन हो गई है। डाक विभाग से आनलाइन माध्यम से राष्ट्रीय पेंशन योजना की सदस्यता ली जा सकती है। यानी, ग्राहक घर बैठे ही एनपीएस खाता खुलवा सकेंगे।

डाक विभाग के अधिकारियों के अनुसार 18 साल से अधिक और 70 साल से कम उम्र का कोई भी डाक विभाग की वेबसाइट पर नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) की आनलाइन कैटेगरी में जाकर इस सुविधा के लिए आवेदन कर सकता है। एनपीएस सेवा शुल्क किसी भी बैंक या संस्थान की अपेक्षा सबसे कम है। इस सुविधा के तहत ग्राहकों को रजिस्ट्रेशन, निवेश या एसआइपी जैसी सेवाओं का विकल्प दिया जाता है। उन्होंने बताया कि एनपीएस के तहत ग्राहक दो तरह के खाते खुलवा सकते हैं। इसमें टीयर-1 खाता जो केवल कर्मचारियों के लिए होता है। इस खाते में नियोक्ता और कर्मचारी दोनों अंशदान करते हैं। वहीं दूसरा टीयर-2 खाता होता है। इस खाता को कोई भी खुलवा सकता है।

टीयर-1 खाते में सालाना 1.5 लाख रुपये तक के निवेश पर टैक्स में छूट भी दी जाती है, जबकि टीयर-2 खाते पर सालाना 50 हजार की टैक्स छूट मिलती है। कुल मिलाकर एक एनपीएस खाते पर हर साल दो लाख रुपये तक आयकर टैक्स छूट का लाभ दिया जाता है।

इस योजना से सेवानिवृत्त होने पर क्या मिलता है लाभ विभागीय अधिकारियों के अनुसार जब कोई एनपीएस खाताधारक सेवानिवृत्त होता है तो उसे कुल जमा राशि (ब्याज सहित) का 60 प्रतिशत एकमुश्त राशि भुगतान कर दिया जाता है। यह राशि पूरी तरह टैक्स से मुक्त है। इसके बाद 40 प्रतिशत राशि से उसे इन्युटी खरीदनी होती है जो कोई भी बीमा कंपनी उपलब्ध करा सकती है। अब इस राशि पर मिलने वाला ब्याज ही हर महीने पेंशन के रूप में मिलता है।

भागलपुर कार्य प्रमंडल के डाक अधीक्ष राम परीखा प्रसाद ने कहा कि एनपीएस के तहत डाक विभाग ग्राहकों को खाता खोलने की आनलाइन सुविधा मिलने लगी है। घर बैठे एनपीएस खाता खुलवाने से समय की बचत होगी।

डाकघरों में शुरू होगा नेशनल इलेक्ट्रानिक फंड ट्रांसफर सेवा

डाकघर के खाताधारकों के लिए अच्छी खबर है। डाकघरों में बचत खाता रखने वाले जल्द डिजिटल बैंकिंग का लाभ उठा सकेंगे। डाक अधीक्षक आरपी प्रसाद के अनुसार नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर (एनएफटीइ) की सेवा जल्द शुरू होगी। इस दिशा में पहल शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि इस सेवा के शुरू होने से डाकघर के ग्राहक भी आसानी से खाते से एक-दूसरे को फंड ट्रांसफर कर सकेंगे। अभी बैंक के माध्यम से फंड ट्रांसफर करना पड़ रहा है। एनएफटीइ की सेवा शुरू होने के बाद इमीडिएट पेमेंट सर्विस (आइएमपीएस) व रियल टाइम ग्रास सेटलमेंट (आरटीजीएस) की सेवाएं भी बहाल होगी।