ढाई आखर प्रेम का सांस्कृतिक यात्रा के तहत नाटक का होगा मंचन;

भागलपुर,आजादी के 75वें साल के उपलक्ष्य में भारतीय जन नाट्य संघ (इप्टा) की ओर से निकली गयी ढाई आखर प्रेम का सांस्कृतिक यात्रा बुधवार को भागलपुर पहुंचेगी। इस दौरान सैंडिस कम्पाउंड स्थित भारतेंदु रंगभूमि में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा।

सोमवार को गोलाघाट स्थित कार्यालय में महासचिव श्वेता भारती ने बताया कि सांस्कृतिक कार्यक्रम में सांस्कृतिक मूल्यों व इप्टा के अवदानों पर चर्चा-परिचर्चा करने के साथ काव्य पाठ, गीत संगीत के कार्यक्रमों के बीच नाटक की प्रस्तुति की जायेगी। आयोजन स्थल पर मंजूषा पेंटिंग की भी प्रदर्शनी लगायी जायेगी। 21 अप्रैल को सुबह 9 बजे स्टेशन चौक स्थित डॉ. भीमराव आंबेडकर व तिलकामांझी चौक स्थित बाबा तिलकामांझी पर दस बजे और जीरोमाइल चौक स्थित वीर कुंवर सिंह की प्रतिमा के समीप 11 बजे गीतों की प्रस्तुति के साथ माल्यार्पण किया जायेगा। इसके बाद नवगछिया जीरोमाइल चौक के पास टीम के सदस्यों को विदाई देकर रवाना किया जायेगा।

भागलपुर इप्टा के अध्यक्ष डॉ. उपेन्द्र साह व सचिव मंडल के सदस्य संजीव कुमार सिंह दीपू ने कहा कि ढाई आखर प्रेम का इस यात्रा के बहाने लोगों के बीच समता, न्याय और बंधुत्व के उन मूल्यों की तलाश की जायेगी। इसके साथ ही महात्मा गांधी, भगत, अशफाक और बिस्मिल जैसे शहीदों के आदर्श व सिद्धान्तों को लोगों के बीच प्रचारित किया जायेगा। इस सांस्कृतिक यात्रा के स्वागत-सत्कार में भागलपुर इप्टा की पूरी टीम रहेगी।