पीरपैंती के रेलवे उल्टापुल संख्या 91 के रुके कार्य के फिर शुरू होने की कवायद शुरू;

पीरपैंती के रेलवे पुल संख्या 91 सोमवार को टीआई बीबी तिवारी, एसएससी कंस्ट्रक्शन बृज बिभाष सिंह, जेईटीआरडी निताय प्रधान, चीफ पी डब्लू आई नवीन कुमार,सिग्नल इंस्पेक्टर बीडी मंडल आदि ने जायजा लिया। इस दौरान खासकर आगे के पुल निर्माण गाडर आदि चढ़ाने में आड़े आने वाले बिजली तार आदि को कैसे हटाया जाय, कहां लगाया जाय आदि को जांचा परखा। बहरहाल अधिकारियों ने बताया की बिजली के तार का प्रोफाइल एडजस्टमेंट किया जाएगा। इसके बाद बीच में फाल्स पाया खड़ा किया जाएगा। तब रॉलिंग गाडर चढ़ाया जाएगा। इन सभी कार्यों में हफ्ता दस दिन लग सकता है। जबकि इसके बाद नट बोल्ट टाइट किया जाएगा और मेन गार्डर चढ़ाया जाएगा। हालांकि इससे पूर्व मेगा ब्लॉक के लिए डिविजन को लिखा जा रहा है। एक दिन के कार्य के लिए कम से कम 6 से 8 घंटा भी लग सकता है। मेगा ब्लॉक मिलते ही कार्य शुरू कर दिया जाएगा। बताया कि गार्डर चढ़ाने में पांच से सात घंटे का समय लग सकता है। दूसरी तरफ साथ चल रहे कुछ रेल कर्मी ने बताया की कार्य शुरू होने के तकरीबन 15 दिन में लोग पैदल चल सकेंगे। ऐसी हमें उम्मीद है।