व्हाट्सएप ग्रुप पर गंदगी का फोटो भेजें, तत्काल होगी सफाई;

शहरी क्षेत्र में सफाई को लेकर नगर निगम व्हाट्सएप ग्रुप बनायेगा। उस ग्रुप में कोई भी व्यक्ति गंदगी से संबंधित फोटो और मैसेज पोस्ट कर सकता है। जानकारी मिलने के बाद नगर निगम तत्काल सफाई करवाएगा। इसके लिए कार्यालय में मॉनिटरिंग के लिए एक अफसर की तैनाती की जाएगी। व्हाट्सएप पर मिलने वाली सूचना और कार्रवाई का ब्योरा भी नगर निगम में रोज तैयार किया जाएगा। ऐसा नहीं करने पर जिम्मेदार अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई होगी।

प्रमंडलीय आयुक्त दयानिधान पांडेय की अध्यक्षता में मंगलवार को नगर निगम के काम की समीक्षा हुई। समीक्षा के दौरान नगर निगम की पोल खुल गयी। हर क्षेत्र में निगम का काम असंतोषजनक पाया गया। आयुक्त ने फटकार लगाते हुए नगर आयुक्त को कामकाज में सुधार लाने की चेतावनी दी। आयुक्त के सचिव मो. वारिस खान ने बताया कि नगर निगम द्वारा एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जाएगा। उस नम्बर को सार्वजनिक किया जाएगा। नगर आयुक्त व्हाट्सएप नम्बर की सूचना को प्रसारित करने की व्यवस्था करेंगे। उसमें हर वार्ड के मुंशी और जोनल अधिकारी जुड़ेंगे। आमलोगों से सूचना मिलने पर तत्काल वहां की सफाई करायी जाएगी। नगर आयुक्त कार्यालय में मॉनिटरिंग करने के लिए एक अफसर प्रतिनियुक्त करेंगे। संबंधित अधिकारी दिनभर के सफाई कार्य की मॉनिटरिंग करेंगे। नगर निगम में एक लॉकबुक रहेगा। उसमें दर्ज किया जाएगा कि किस वार्ड से मैसेज मिला और उस पर क्या कार्रवाई की गयी। बताया गया कि नगर निगम में 1283 सफाईकर्मी हैं। उनमें से 143 स्थायी कर्मी भी शामिल हैं। आयुक्त ने सभी कर्मियों की उपस्थिति विवरणी माह के अंत तक तैयार करने और प्रत्येक माह के पहले सप्ताह में मानदेय और वेतन का भुगतान करने का निर्देश दिया।