सराय चौक पर लीकेज, चौराहे पर बह रहा है पानी;

शहर में लीकेज की परेशानी दूर नहीं हो रही है। एक जगह लीकेज ठीक होता है तो दूसरी जगह हो फिर हो जाता है। अभी सराय चौक पर लीकेज हो गया है। इसके कारण बीच चौराहे पर पानी बह रहा है। इस जगह पर एडीबी वाटर प्रोजेक्ट के तहत पाइप बिछाने के लिए सड़क काटी गई थी। अभी तक सड़क की भी मरम्मत नहीं हुई है। ऊपर से लीकेज हो जाने के कारण चौराहे पर पूरा कीचड़ हो गया है।

इससे पहले मानिक सरकार, घंटाघर और खलीफाबाग में लीकेज हो गया था। मानिक सरकार चौक पर चार दिनों तक लीकेज के कारण सड़क पर पानी बहता रहा। रविवार को इसे ठीक किया है। जबकि लीकेज बनाने के अगले दिन बाद से ही वहां लगातार पानी बह रहा था। दो दिन होली में भी वहां से पानी बहता रहा तो स्थानीय लोगों ने पाइप को रस्सी से बांध कर ऊपर कर दिया, ताकि पानी सीधे सड़क पर आ जाए। रविवार को लीकेज बनाने के बाद पानी की बर्बादी रुकी है। हालांकि निगम की टीम ने लीकेज वाले जगह को दोबारा मिट्टी से समतल नहीं किया है। बताया गया है कि अगर इस बीच फिर किसी कारणवश लीकेज हो गया तो ठीक करने में आसानी होगी, इसलिए उस गड्ढ़े को खुला ही रखा है। लेकिन वहां पर किसी तरह का लाल झंडा नहीं लगाया है जो रात में भी दिख जाए। ऐसे में यहां दुर्घटना की आशंका बनी हुई है। इधर खलीफाबाग चौक पर लीकेज की मरम्मत करने के बाद मिट्टी भर दिया गया है। लेकिन वहां ढलाई नहीं की गई है।

नगर आयुक्त प्रफुल चंद्र यादव का कहना है कि मानिक सरकार के पास लीकेज की सूचना थी, इसे ठीक करा दिया गया है। सराय चौक के पास लीकेज की सूचना नहीं मिली थी। सोमवार को इसकी जांच करा ली जाएगी।