सुल्तानगंज का नाम बाबा अजगैवीनाथ धाम करने की तैयारी;

बिहार के उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद ने कहा कि सुल्तानगंज का नाम बदलकर बाबा अजगैवीनाथ धाम करने पर सरकार गंभीरता से विचार करेगी। इसे सामान्य प्रशासन विभाग को भेजा जाएगा। नामकरण को लेकर सर्वानुमति बनाने का प्रयास किया जाएगा ताकि बाद में किसी तरह का विवाद नहीं हो। गुरुवार को सुल्तानगंज स्थित नमामि गंगे घाट पर श्रावणी मेला का विधिवत उद्घाटन करने के बाद उप मुख्यमंत्री समारोह को संबोधित कर रहे थे। इसके पूर्व स्थानीय विधायक सहित कई वक्ताओं ने श्रावणी मेला को राष्ट्रीय मेला घोषित करने और सुल्तनागंज का नाम बदलने की मांग की। जिस पर डिप्टी सीएम ने पहल करने का आश्वासन दिया।

डिप्टी सीएम ने कहा कि श्रावणी मेला के लिए सुल्तानगंज और पूरे कांवरिया पथ में अच्छी व्यवस्था की गई है। इसके बावजूद अगर कोई कमी रह गयी है तो उसे पूरा किया जाएगा। सुल्तानगंज में नमामि गंगे योजना से 30.71 करोड़ की लागत से रिवर फ्रंट बनाया गया है। इसकी लंबाई 125 मीटर है। लकड़ी का चार शवदाह गृह, चेंजिंग रूम, शौचालय आदि की व्यवस्था की गयी है। इसी तरह सीढ़ी घाट को भी बनाने की योजना है। इसके अलावा चार लकड़ी का और एक विद्युत शवदाह गृह का टेंडर हो गया है। डिप्टी सीएम ने कहा कि बिहार में गंगा सबसे लंबी दूरी तक बहती है। सबसे अधिक बिहार के 13 जिले गंगा से जुड़े हुए हैं। गंगा को को पवित्र रहने के लिए सरकार गंभीर है। गंगा नदी के लिए दूसरे देश और राज्य के लोग तरसते हैं। हमलोग भाग्यशाली हैं कि सबसे ज्यादा गंगा बिहार से होकर गुजरती है। यह बराज, बांध या सिंचाई से नहीं जुड़ा हुआ है। गंगा संस्कृति अवधारणा को पोषित करने का काम करती है। सुल्तानगंज के सभी नालों को एसटीपी से जोड़ा गया है। नाला का पानी गंगा में नहीं जाएगा। अगस्त तक योजना को पूरा कर लिया जाएगा। सुल्तानगंज घाट पर मनोरम दृश्य इसके पहले नहीं देखने को मिलता था।

राजस्व एवं भूमि सुधार सह जिले के प्रभारी मंत्री रामसूरत कुमार ने कहा कि समय आने पर केन्द्र सरकार राष्ट्रीय मेला का भी दर्जा देगी। नगर निकाय चुनाव के बाद नगर परिषद नाम बदलने के लिए प्रस्ताव भेजे। सरकार उसी के लिए बैठी हुई है। समारोह को स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय, उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन, पथ निर्माण मंत्री नितीन नवीन, पंचायती राज मंत्री सम्राट चौधरी, पर्यटन मंत्री नारायण प्रसाद, बांका के सांसद गिरधारी यादव, भागलपुर के सांसद अजय कुमार, विधायक ललित नारायण मंडल, जिला परिषद अध्यक्ष अनंत कुमार उर्फ टुनटुन साह आदि ने संबोधित किया। स्वागत भाषण जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन, धन्यवाद ज्ञापन डीडीसी प्रतिभा रानी ने किया। इस मौके पर पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव संतोष कुमार मल्ल, निदेशक कवल तनुज, भागलपुर के प्रमंडलीय आयुक्त दयानिधान पांडेय, डीआईजी विवेकानंद, डीएम सुब्रत कुमार सेन, एसएसपी रामबाबू, विधायक पवन यादव, ललन कुमार, राजीव कुमार सिंह, एमएलसी विजय कुमार सिंह, सुल्तागंज नगर परिषद की पूर्व सभापति नीलम कुमारी आदि उपस्थित थीं।