श्री कृष्णा वाटिका, मुंगेर (Shri Krishna Vatika) – Munger

Shri Krishna Vatika is famous for its charming nature. It is situated near the Kashtaharni Ghat. The sight seen of this place attracts many visitors. Mainly local people come here every day to spend their time with their family. It is one of the best relaxing places in this district. It derived its name from Dr Shri Krishna Singh, who was the first chief minister of Bihar. This beautiful place surrounded by a wonderful garden. The grave of Gul and Bahara is present inside the garden. There are two tunnels in the Krishna Vatika and efforts have been made in the past to pass through the tunnels but in vain as it proved to be life threatening. 

अंग्रेजी काल में यह पार्क ली गार्डन के नाम से जाना जाता था। आजादी के बाद बिहार के प्रथम मुख्यमंत्री श्रीकृष्ण सिंह के नाम पर इस पार्क का नामकरण किया गया। यहां से गंगा का मनोरम दृश्य दिखायी पड़ता है। 

श्रीकृष्ण वाटिका पार्क में राजा मीर कासिम की सुरंग और उनके दो संतानों की कब्र है। अंग्रेजों ने जब मंुगेर पर आक्रमण किया तो राजा मीर कासिम इस वाटिका में पहले से बनी सुरंग के रास्ते भाग निकला। बाहर से आए लोग आज भी मीर कासिम की सुरंग और उनके दो संतान की कब्र को देखने वाटिका जाते हैं